Goswami Tulsidas

कविता करके तुलसी न लसे,
कविता लसी पा तुलसी की कला ।